कुंभ मेले में जाने वाले तीर्थयात्रियों को ये खास सुविधाएं देगा रेलवे, आप भी जरूर जानें

नई दिल्‍ली : अगले साल जनवरी में संगम नगरी प्रयागराज में आयोजित होने वाले कुंभ मेलेके लिए रेलवे ने भी तैयारियां शुरू कर दी हैं. भारतीय रेलवे कुंभ में जाने वाले यात्रियों को खास सुविधाएं देगा. इसके तहत बड़ी संख्‍या में विशेष ट्रेनें भी चलाई जाएंगी. साथ ही यात्रियों को अनारक्षित टिकट लेने में कोई परेशानी न हो, इसके लिए भी रेलवे ने खास इंतजाम किए हैं.

‘मेला सरचार्ज’ नहीं लेगा रेलवे
अगले साल जनवरी में आयोजित होने वाले कुंभ मेले से पहले रेलवे ने ‘मेला सरचार्ज’ खत्म करने का फैसला किया है. यह एक ऐसा शुल्क है जिसे बड़े मेलों के समय यात्रियों से वसूला जाता है. रेलवे बोर्ड ने एक आदेश में ‘मेला सरचार्ज’ खत्म करने की बात कही है. 

मेलों में सरचार्ज वसूलता है रेलवे
पूरे देश में आयोजित होने वाले बड़े मेलों की टिकट बुकिंग पर रेलवे सरचार्ज वसूलता है. यह शुल्क मेले के दौरान किए गए अतिरिक्त आंतरिक खर्च को पूरा करने के लिए रेलवे लेता है. एक सर्कुलर में कहा गया है कि रेलवे मंत्रालय ने 11 दिसंबर से ‘मेला सरचार्ज’ खत्म करने का निर्णय लिया है.

700 करोड़ रुपये की परियोजनाओं की शुरुआत
रेलवे ने अगले साल जनवरी में प्रयागराज (इलाहाबाद) में आयोजित होने वाले कुंभ मेले के लिए 41 परियोजनाएं शुरू की हैं. इनपर 700 करोड़ रुपये की लागत आएगी. रेलवे के एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार 41 परियोजनाओं में से 29 पूरी हो चुकी हैं. अन्य अंतिम चरण में हैं तथा जल्द पूरी होने वाली हैं.

उत्तर मध्य रेलवे (एनसीआर) के महाप्रबंधक राजीव चौधरी के अनुसार प्रयागराज जंक्शन रेलवे स्टेशन पर चार बड़े अहातों का निर्माण किया गया है. इनमें 10,000 तीर्थयात्रियों को विभिन्न सुविधाएं प्रदान की जा सकती हैं. इनमें वेंडिंग स्टॉल, पानी के बूथ, टिकट काउंटर, एलसीडी टीवी, सीसीटीवी, महिलाओं और पुरुषों के लिए अलग-अलग शौचालय होंगे. इसी तरह से अन्य स्टेशनों पर भी यात्री अहाते बनाए गए हैं.

800 अतिरिक्‍त विशेष ट्रेनें भी
कुंभ मेले के दौरान मेले में आने वाले तीर्थयात्रियों के लिए प्रयागराज जिले के विभिन्न स्टेशनों से करीब 800 विशेष ट्रेन चलाने का प्रस्ताव है. यह ट्रेनें दिल्‍ली-एनसीआर की ओर से चलाई जाने वाली नियमित ट्रेनों से अलग होंगी.

प्रवासी भारतीयों के लिए खास इंतजाम
रेलवे की 5000 ‘प्रवासी भारतीयों’ को इलाहाबाद से नयी दिल्ली ले जाने के लिए चार-पांच विशेष ट्रेनें चलाने की योजना है. ये प्रवासी भारतीय वाराणसी में होने वाले ‘प्रवासी भारतीय दिवस’ में शिरकत करने जाएंगे और वाराणसी से कुंभ मेले में हिस्सा लेने के लिए इलाहाबाद जाएंगे. रेलवे, मेले के दौरान इस पवित्र शहर में यात्रियों की भारी भीड़ से निपटने के लिए बड़े पैमाने पर आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस (एआई) समेत प्रौद्योगिकी का इस्तेमाल करेगा.

आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस का इस्‍तेमाल
आईबीएम भीड़ नियंत्रण के लिए आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस का उपयोग कर वीडियो विश्लेषण सेवा प्रदान करेगा जबकि स्थिति पर नजर रखने के लिए बड़ी संख्या में शक्तिशाली सीसीटीवी कैमरे होंगे और सूचनाएं प्रदर्शित करने के लिए कई एलईडी स्क्रीन होंगी.

आसानी से मिलेंगी रेल टिकट
विशेष मामले के तौर पर रेल मंत्रालय ने यह फैसला किया है कि प्रयागराज क्षेत्र में पड़ने वाले 11 स्टेशनों से अनारक्षित रेलवे टिकटों की 15 दिन पहले से बुकिंग की इजाजत दी जाएगी. इलाहाबाद में उत्तर मध्य रेलवे ने ‘रेल कुंभ सेवा मोबाइल एप’ का भी शुभारंभ किया है.

news source: zeenews

SHARE
Previous articleकुम्भ मेला २०१९ : एक परिचय
Next articleप्रयागराज कुम्भ २०१९ के लिये यात्रा कैसे करें
धर्म , संस्कृति और समाज की जानकारी के लिए हमारा youtube चैनेल को ज़रूर सबसक्रएब करें ताजा खबरों के लिए हमारी website http://sharanamtv.com/ पर जाए फेसबुक पर हमसे जुड़े रहने के लिए हमें https://www.facebook.com/sharanamtv पर लाइक करे ट्वीटर पर हमें https://twitter.com/sharanamtv पर फालो करें किसी भी तरह की जानकारी के लिए हमें 9654531723 पर व्हाट्सअप्प/टेलीग्राम करें धर्म के प्रचार के लिए आप अपना आर्थिक सहयोग हमें 9654531723 पर PAYTM, PhonePe या google PAY के जरिये कर सकते है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here