शनि आरती : जय जय श्री शनिदेव

जय जय श्री शनिदेव भक्तन हितकारी।

सूर्य पुत्र प्रभु छाया महतारी॥

जय जय श्री शनि देव….

श्याम अंग वक्र-दृ‍ष्टि चतुर्भुजा धारी।

नी लाम्बर धार नाथ गज की असवारी॥

जय जय श्री शनि देव….

क्रीट मुकुट शीश राजित दिपत है लिलारी।

मुक्तन की माला गले शोभित बलिहारी॥

जय जय श्री शनि देव….

मोदक मिष्ठान पान चढ़त हैं सुपारी।

लोहा तिल तेल उड़द महिषी अति प्यारी॥

जय जय श्री शनि देव….

देव दनुज ऋषि मुनि सुमिरत नर नारी।

विश्वनाथ धरत ध्यान शरण हैं तुम्हारी॥

जय जय श्री शनि देव भक्तन हितकारी।।

SHARE
Previous articleहनुमान जी की आरती
Next articleShree Krishan Aarti आरती कुंजबिहारी की
धर्म , संस्कृति और समाज की जानकारी के लिए हमारा youtube चैनेल को ज़रूर सबसक्रएब करें ताजा खबरों के लिए हमारी website http://sharanamtv.com/ पर जाए फेसबुक पर हमसे जुड़े रहने के लिए हमें https://www.facebook.com/sharanamtv पर लाइक करे ट्वीटर पर हमें https://twitter.com/sharanamtv पर फालो करें किसी भी तरह की जानकारी के लिए हमें 9654531723 पर व्हाट्सअप्प/टेलीग्राम करें धर्म के प्रचार के लिए आप अपना आर्थिक सहयोग हमें 9654531723 पर PAYTM, PhonePe या google PAY के जरिये कर सकते है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here